Tuesday, December 18, 2018

Rotary pump

रोटरी पंप Rotary pump रोटरी पंप का पंपिंग एक्शन pumping action रोटरी पंप के प्रकार types of rotary  PUMP

रोटरी पंप एक पॉजिटिव डिस्प्लेसमेंट पंप होता है जिसमें   पंपिंग एक्शन पंप को घूमने वाले और स्थिर हीसों के द्वारा पैदा किया जाता है इस पंप की यह विशेषता है कि डिस्चार्ज किए हुए तरह द्रव्य की मात्रा पंप की गति पर निर्भर करती है रोटरी पंप में रेसिप प्रोकेटिंग पंप की भांति इनलेट आउटलेट वाल्व नहीं लगे होते हैं रोटरी पंप का डिस्चार्ज स्थिर होता है जबकि रेसिपी प्रोटिंग हीलने वाला होता है रोटरी पंप का प्रयोग तरल द्रव्य के अनुसार किया जाता है रोटरी पंप का प्रयोग इंडस्ट्रियल प्लांट ,पावर स्टेशन में तेल, पानी इत्यादि तरल द्रव्य को उठाने तथा सर्कुलेट करने के लिए किया जाता है रोटरी पंप में सेंट्रीफ्यूगल पंप से कम फाल्ट पड़ते हैं क्योंकि जिस त्रल द्रव्य को पंप करना होता है वह तरल द्रव्य उसके सभी हीस्सो की लुब्रिकेशन करता रहता है।
dail-test-indicator

रोटरी पंप का पंपिंग एक्शन pumping action of rotary pump

सभी रोटरी पंप ओं का पंपिंग एक्शन पॉजिटिव डिस्प्लेसमेंट होता है रोटरी पंप में दो पार्ट होते हैं इनलेट और आउटलेट।
रोटरी पंप का पंपिंग एक्शन निम्नलिखित तीन प्रक्रियाओं में होता है:-
  1. आउटलेट के लिए बांध इनलेट के लिए खुला। Close for outlet and open for inlet
  2. आउटलेट के लिए खुला और इंग्लैंड के लिए बंद। Open for outlet and close for inlet
  3. आउटलेट के लिए बंद और इंग्लैंड के लिए बंद। Cloes for outlet and cloes for inlet.
रोटरी पंप का सही पंपिंग एक्शन इनलेट के लिए खुला होने के कारण यह स्मूथ डिस्चार्ज पैदा करता है स्मूथ डिस्चार्ज गति के आधार पर होता है और बंद इन लेट पंप की गति पर निर्भर करता है।
locking device

रोटरी पंप के प्रकार types of rotary Pump:-

  1. simple impeller pump
  2.  flexible impeller pump
  3.  gear pump
  4.  lobe rotor pump 
  5. vane pump
  6.  screw pump
  7.  liquid ring pump
  8.  roots pump
1. Simple impeller pump:- . यह पंप छोटे आकार में बनाए जाते हैं तथा इनकी क्षमता सीमित होती है यह एक सिंगल स्टेज अपकेंद्रीय पंप होते हैं एक विशेष गति पर कार्य करते हैं यह सस्ता व साधारण पंप होता है तथा साफ तरल   द्रव्य को एक मात्रा में एक जगह से बड़े हुए दबाव के अंदर भेजने का कार्य करता है यह पंप सेल्फ प्राईमिंग नहीं होता है तथा छोटे आकार के काम की लिफ्ट 1 मीटर से कम होती है।
2. Flexible impeller pump:- यह पंप मजबूत माने जाते हैं इसके इंपैलर की वजह से इसका दबाव सीमित है साधारण दया यह पर आया और 40 डिग्री से 50 डिग्री पीएसआई दबाव तक काम करते हैं इसमें 5 मीटर की सक्शन लाइट लिफ्ट संभव है इन पंपों में एक फ्लैक्सिबल व्हेन इंपैलर लगा होता है जिसे की सेटिंग सक्शन की गोलाई के सिंह के बीच मध्य में फिट किया जाता है शेट्टी सचिन के किनारों पर इनलेट आउटलेट पार्ट बने होते हैं।

फ्लैक्सिबल पंप की कार्यविधि :-
जब इंपैलर unsetric सक्शन से आते जाते हैं तो निर्वात पैदा होता है चेंबर के अंदर आयतन बढ़ता है जिसकी वजह से पंप के अंदर तक द्रव्य खींचा जाता है अतः यह पंप सेल्फ प्राईमिंग पंप होता है इसके इंपैलर प्राय न्यू पिन रबड़ के बने होते हैं।।
www.bloggeryash.co.in

Thanks for reading this blog



No comments:

Post a Comment

Thanks for your advice and valuable time

Vice,first aid,