Friday, December 28, 2018

Pump Foundation method and installation

पंप की नींव विधि Foundation method and पंप के फिट करना installation of pumps


Pump foundation:- 

पंप की नींव ऐसी होनी चाहिए जो कि किसी भी प्रकार की वाइब्रेशन या हिल जुल को सहन करने तथा बेड प्लेट को एक सही स्थिति व कठोर सहारा बनाए रखें फाउंडेशन तैयार करने के लिए 1,3,5 का मिश्रण जैसे सीमेंट, रेत, बजरी की लगभग फाउंडेशन बनाने की ऊंचाई 7 सेंटीमीटर होनी चाहिए ।
interchangeability-limitfits-tollerance
फाउंडेशन के हर एक बोल्ट को उसके चारों तरफ एक पाइप के सलिव लगातार बिठाना चाहिए ताकि जरूरत पड़ने पर एडजस्टमेंट की जा सके स्लीव के अंदर का व्यास बोर्ड के व्यास से ढाई से 3 गुना होनी चाहिए बोल्ट को सतह पर निर्भर रखने के लिए बोलट हेड पर स्लीव के बीच एक वॉशर फिट करनी चाहिए ।फाउंडेशन बोल्ट व बेड प्लेट की 20 एमएम से 40 एमएम मोटी रोटींगं को ध्यान से रखते हुए बोल्ट की लंबाई ईतनी होनी चाहिए कि वह लगभग 6 एम एम नट से बाहर रहे।
Pump alignment


फाऊंडेशन को माउंटिंग के लिए तैयार करना है

पंप के यूनिट को सेट करने से पहले फाउंडेशन की ऊपरी सतह से कंक्रीट और दूसरे पदार्थों को हटा देना चाहिए ताकि ग्राउट सलीव व बोल्ट के बीच में घुस सके।

यूनिट को Foundation पर बिठाना
 पंप यूनिट को दिए हुए बेजिज के ऊपर जगह पर रखें बेजिज पॉइंट पर होनी चाहिए तो पंप के सेंटर के नीचे कई जगह बेजिज बेड प्लेट के मध्य वाले हिस्से पर भी वेजिज की आवश्यकता पड़ती है पंप व प्राईमूवर की कपलिंग को डिस्कनेकट  करें ।
Pump on the foundation


वेजिज की एडजस्टमेंट करते हुए यूनिट को सही लेबल पर लाएं या ग्राउट के लिए सही दूरी 20 एमएम से 40 एमएम सेक्शन व डिस्चार्ज फलो की लेवल को प्लंग करें। और एडजस्ट करते हुए कपलिंग के दोनों हिस्सों का समरेखण करें।
 वेजिज को एडजस्ट करते करने के बाद फाउंडेशन बोल्ट का अंतिम रूप से सभी नट टाइट करने चाहिए जबकि ग्राउट 48 घंटे तक सेट हो चुका है।
What is tap?

यूनिट को फाउंडेशन के ऊपर ग्राउट करना 

फाउंडेशन के चारों तरफ लकड़ी का बांध बनाए तथा कंक्रीट फाउंडेशन की ऊपरी सतह को गिला करें ।बेड प्लेट के ऊपरी हिस्से पर बने छेद को ग्राउट को डाले गा्उट इतना पतला होना चाहिए कि वह ग्राउट प्लेट से नीचे पहुंच सके परंतु इतना गिला भी ना करें की सीमेंट रेत से अलग होकर स्तह पर अलग हो जाए।
1. सीमेंट के एक हिस्से में तीन हिससे रेत होना चाहिए।
2. ग्राउट को डालते समय उसे लगातार हिलाते रहना चाहिए ताकि हवा को बाहर निकाला जा सके।
 3. लकड़ी के बांध को ऊपर से हथौड़े की सहायता से धीरे-धीरे चोट मारने चाहिए ताकि साफ फाउंडेशन बने।
 4. ग्राउट को 48 घंटे तक सूखने दें।
dail-test-indicator

समरेखण या Alignment 

एक पंप को बिठाते समय समरेखण एक ही महत्वपूर्ण पहलू है ।यदि प्राइम मूबर या पंप का फैक्ट्री से संरेखण किया जाता है फिर भी स्थानांतरित के समय  बेड प्लेट के फाउंडेशन बोल्ट को और समतल तरीके से टाइट करने से समरेखण हो सकता है इसलिए प्रयोग करने से पहले उसका संरेखण करना चाहिए अलाइनमेंट कप लिंग को पराया तीन स्थितियों के लिए चेक किया जाता है।
1. कपलिंग के हिससों की समानतंरित
 कोणीय समरेखण
 पंप शाफ्ट व प्राइम मूवर 
शाफ्ट का विस्थापन किसी भी सथिर में एक हीससे से कप लिंग के विस्थापन डी 125mm से ज्यादा नहीं होना चाहिए ।
2. कप लिंग के दोनों हिस्सों का गलोब लगभग 2 एमएम होना चाहिए ।
3. बेल्ट ड्राइव में पंप की शाफ्ट प्राइम मूवर की शाफ्ट समानांतर होनी चाहिए ।इनको चेक करने के लिए एक धागे का प्रयोग करना चाहिए जिससे ड्राइवर पुलियों  के फेस के चारों पॉइंट पर घुना चाहिए।
counter-sinking how to work with it.
समरेखण या Alignment
पंप वह प्राइम मूवर को आपस में एक समान समरेखण होना चाहिए यदि पंप व प्राइम मूवर का समरेखण ना हो तो उससे बहुत ज्यादा हानियां हो सकती है जैसे कि बियरिंग का टूटना बुश का खराब होना आदि मुख्य कारण है।

प्राईमूवर एक प्रकार का ऊर्जा देने वाला यंत्र होता है जिससे पंप को ऊर्जा दी जाती है। इन दोनों की शाफट के  के द्वारा आपस में  मिलाया जाता है और जैसे ही प्राइम मूवर  को गति दी जाती है  तो पंप  खुद ही  घूमने लगता है  उस स्थिति में पंप से किसी भी liquid पदार्थ को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए आसानी होती है प्राइम मूबर एक प्रकार की ऊर्जा देने वाला यंत्र है।

लेवल या समरेखण:- 
पंप व प्राईमूवर को आपस में है एक समान समय रेखा होना बहुत जरूरी है एक स्तर में लाया जाता है उसे लेवल कहते हैं किसी वस्तु को चारों किनारों की सत्ता में लाइन की प्रक्रिया को भी लेबलिंग के नाम से जाना जाता है चारों शवों को एक लेवल में लाने के लिए वाटर लेवल का प्रयोग किया जाता है लेबल भी पंप प्राइम मूवर के लिए महत्वपूर्ण पहलू है लेवल ठीक ना होने से पंप प्राइम ओवर को नुकसान हो सकता है इसलिए लेवलिंग बहुत जरूरी है।

www.bloggeryash.co.in
Thanks for reading this blog


No comments:

Post a Comment

Thanks for your advice and valuable time

Vice,first aid,