Friday, November 9, 2018

Tap

टेप क्या है और यह कैसे कार्य करता है?(What is tap ? How it work)

टेप एक कटिंग टूल है जिसके द्वारा बेलनाकार छेद के अंदर
चुड़ियां काटी जाती है टेप के द्वारा चूड़ियां काटने के लिए पहले टेप को साइज के अनुसार ड्रिल द्वारा छेद करके उसका रिमिंग प्रोसेस द्वारा फिनिश किया जाता है बिना फिनिश किए किसी भी छेद में टेप को नहीं चलाना चाहिए। टेप के द्वारा  किसी छेद के अंदर चुडी काटने की क्रिया को टेपिंग कहते हैं टेप प्राय: हाई कार्बन स्टील या हाई स्पीड स्टील के बनाए जाते हैं जिनकी देह को हार्ड एवं टेंम्पर  कर लिया जाता है टेप की बेलनाकार way की चारों तरफ चूड़ियां बनी होती है और कटिंग एज के लिए इन चूड़ियों को काटते हुए टेप की लंबाई में कुछ खांचे  या फ्लूट भी कटे होते हैं टेप के मुख्य भागों का विवरण इस प्रकार हैं:-

Hand Tap

  1. बाॅडी  :- टेप को चूड़ी काटते हुए भाग कि पूरी लंबाई देह कहलाती है।
  2. शेंक (shank):- बॉडी के बाद स्टॉप बेलनाकार भाग को शेंक कहते हैं।
  3. टेंग (tang):- शेंक के किनारे पर कि बेलनाकार भाग को टेंग कहते है।
  4. खांचे (flutes):- टेप की बॉडी में लंबाई की तरफ  चूड़ियों के काटते हुए कुछ खांचे  कटे रहते हैं जिन्हें flutesया खांचे कहते हैं खांचे से कटिंग एज  बनते हैं कटी हुई चिप बाहर निकलती है साथ में लुब्रिकेंट दिया जाता है।
  5. Hand:- दो फ्लूट के बीच वाली मेटल की चौड़ी सतह को जिस पर चूड़ियां कटी रहती है को हैंड कहते हैं।
  6. Cutting face :- hand के चुड़ीदार भाग के अगले अंग को कटिंग फेस कहते हैं।
  7. Heal :- हैंड के चूड़ीदार भाग के पिछले अंग को  हिल कहते हैं।
  8. Champher:- बॉडी के निचले वाला वह भाग जहां पर कुछ चूड़ियों को टेपर में ग्राइंड किया होता है उसे चैंफर कहते हैं।
  9. Point:- प्रथम tap के चेंम्फर किए हुए अगले वाले सीरे के बाहरी व्यास को point व्यास कहते हैं या रुट व्यास कहते हैं।

हैंड टेप के प्रकार (types of hand tap)

 यह हाथ से चलाई जाने वाली टेप है इसके सेंक के सीरे पर बनी वर्माकार टेंग पर टेप रीन्च  फिट किया जाता है अलग-अलग स्टैंडर्ड की चूड़ियों के लिए टेप को सेट में बनाया जाता है जैसे वी, वी एस डब्ल्यू , वी एस एफ,   टेप के सेट में तीन टेप होते हैं

Tap types

pepper tap ,intermediate tap, finishing,।
हेंड टेप निम्नलिखित प्रकार के होते हैं:-
  1. मशीन टेप
  2. Extention tap
  3. Master tap
  4. Machine screw tap
  5. Nut tap

The size of tap drill

  जब किसी जॉब में टेपिंग की जाती है तो उसमें टेप के साइज के अनुसार कुछ छोटे साइज के ड्रिल होल करने पड़ते हैं यह ड्रिंल होल  टेप पर काटी हुई चुडीयों के कोर डायमीटर के बराबर अवश्य होना चाहिए यदि drill  टेप  के साइज के अनुसार साइज बड़ा हो गया है तो चूड़ी पूरी गहराई कि नहीं बनेगी इस प्रकार यदि ड्रिल होल छोटे साइज का बना है तो टेपर करते समय टेप के टूटने का खतरा बना रहता है इस प्रकार टेप के  साइज के अनुसार सही साइज का होल ड्रिल करना अति आवश्यक है ।


Thanks for reading my blog.


No comments:

Post a Comment

Thanks for your advice and valuable time

Vice,first aid,