Monday, November 26, 2018

Screw driver

पेचकस क्या है What is Screw driver? और यह केसे कार्य करता है ।And how to work with it. स्क्रु ड्राइवर के प्रकार  Types of screw driver.

वर्कशॉप में कार्य करते समय कारीगर को कई प्रकार के जॉब बनाने पड़ते हैं कई ऐसे कार्य होते हैं जिनको विभिन्न विभिन्न साधनों द्वारा आपस में जोड़ा जाता है जैसे कभी कभी किसी नट बोल्ट को कसना या ढीला करना पड़ता है तो कभी किसी पेच के कसने वह खोलने की आवश्यकता पड़ती है इस प्रकार जीस टूल  से किसी पेच को कसा या ढीला किया जाता है उसे पेचकस या स्क्रुड्राइवर कहते हैं।
Screw drivers
https://www.bloggeryash.co.in/p/iti-students.html

 हत्था  सेंक तथा ब्लेड इसके मुख्य भाग होते हैं इसका साइज इसकी लंबाई से प्रकट किया जाता है वह कार्य के अनुसार 75mm से 300mm तथा और भी अधिक साइज में मिलते हैं स्क्रू ड्राइवर की सेंक हाई कार्बन स्टील की बनी होती है तथा इसके ब्लेड को हारड एवं टेंपर कर लिया जाता है ऑफसेट स्क्रू ड्राइवर को छोड़कर प्राय स्क्रू ड्राइवर के हत्थे कठोर लकड़ी या प्लास्टिक के बनाए जाते हैं।

स्क्रु ड्राइवर के प्रकार  (Types of screw driver )

  1. मानक पेचकस:- इस प्रकार का स्क्रू ड्राइवर गोलाकार के छड से चपटा करके बनाया जाता है व इसकी दूसरी सिरे पर आवश्यकतानुसार हत्था फिट किया जाता है इसका प्रयोग सामान्यतः सभी कार्यों के लिए किया जाता है यह विभिन्न साइज का होता है इसका ब्लेड स्क्रू के स्लाट में ठीक से बैठना चाहिए यह भी दो प्रकार के होते हैं हल्के एवं भारी कार्यों के अनुसार भारी कार्य स्क्रुड्राइवर की सेंक प्राय मोटे  चकोर के प्रकार की होती है जिसे आगे से चपटा कर दिया जाता है यह पेचकश दूसरे प्रकार के पेचकसों की  अपेक्षा बड़े साइज का होता है इसका प्रयोग बड़े कार्यों के लिए किया जाता है।
  2. Phillips screw driver:- इस प्रकार के स्क्रू ड्राइवर के बुलेट पर चार नालियां कटी होती है जोकि फिलीप वाले स्क्रु साइज के अनुसार फिट हो जाता है इसलिए स्क्रू ड्राइवर का प्रयोग प्रायर फिलिप्स हेड वाले स्क्रु को खोलने कसने के लिए किया जाता है इनका साइज संख्या से बताया जाता है जैसे 0,1,1 1/2,2,3 है।
  3. off set screw driver:- दोनों सिरों के एक दूसरे एक  विपरीत के कोण पर मोड़ कर बनाया जाता है इसका प्रयोग तंग स्थानों या अन्य स्थानों में किया जाता है जहां मानक या स्क्रुड्राइवर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।
  4. ratchet screwdriver :- इसमें रैचेट गति करता है एक बटन के द्वारा जिसे विस्थापन कहते हैं इसे इसकी चाल को बदला जा सकता है विस्थापितों को ऊपर खींच लेने पर बुलेट सिर्फ बाएं तरफ घूम सकता है इसका प्रयोग स्क्रु को जल्दी खोलने तथा चढ़ाने के लिए किया जाता है।
  5. managing screw driver:- यह पेचकश पॉकेट पेचकश भी कहलाता है।
  6. watch size screw driver:- ये स्क्रु ड्राइवर घड़ियां और दूसरे इंस्ट्रूमेंट की मरम्मत करने के लिए प्रयोग में लाए जाते हैं इनका साइज जीरो नंबर से पांच नंबर होता है 0 बहुत कम तथा 5 सबसे मोटा होता है।

स्क्रू ड्राइवर का प्रयोग करते समय बरती जाने वाली सुरक्षा सावधानियां

  1. screwdriver  की नोंक की चौड़ाई स्क्रु हैड में कटे खांचे से थोड़ी सी कम होनी चाहिए।
  2. नोंक को कभी भी चाकू की तरह तेज धार वाले ग्रैंड नहीं करनी चाहिए कि से सीधा टेपर ग्राइंड करना चाहिए।
  3. टूटे व फटे हुए हत्थे तथा मुड़े हुए सेंक के स्क्रू ड्राइवर को प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  4. screwdriver पर कभी भी हैमर की चोट नहीं मारनी चाहिए।
  5. किसी भी जॉब को हाथ में पकड़ कर उसमें लगे स्क्रू को स्क्रुड्राइवर से खोलना या कसना नहीं चाहिए क्योंकि स्क्रुड्राइवर फिसलकर हाथों में लग सकता है।
  6. स्क्रुड्राइवर का इस्तेमाल कभी भी छीनी या पंच की तरह नहीं करना चाहिए।
Follow us:-
Thanks for reading this blog

1 comment:

  1. I am thankful to this blog giving unique and helpful knowledge about this topic. Driving school in Oakton

    ReplyDelete

Thanks for your advice and valuable time

Vice,first aid,