Saturday, November 17, 2018

Dail test indicator

डायल टेस्ट इंन्डीकेटर करता है What is dial test indicator? डायल टेस्ट इंन्डीकेटर के सिध्दांत करता है What is the principles of dial test indicator? और यह केसे कार्य करता है And how to use dial test indicator and रीडीगं कैसे लेते हैं reading with dial test indicator.

dial test indicator  सतह की जांच करने वाला एक सूक्ष्म मापी यंत्र है जिसका प्रयोग अधिकतर उत्पादन में है जॉब की परी शुद्धता को जांचने या किसी जॉब के पृष्ठों की समतलता  समानतंर  टेपरों छडो की ओवरनेस या सीधा पन का निरीक्षण करने के लिए किया जाता है इसके अतिरिक्त किसी जॉब को सही बांधने या सेट करने के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है यह इंग्लिश प्रणाली में 0. 00 1 इंच और अधिक परिशुध्ता  जांचने के लिए  0.0001 इंच तथा मीट्रिक प्रणाली में 0.0 1mm और इससे भी अधिक एक माइक्रोन अर्थात 0.001एम एम तक की परिशुद्धता में मीलते है। dial gauge या dial indicator gauge भी कहते हैं।

Dail test indicator

डायल टेस्ट इंन्डीकेटर के सिध्दांत principle of dial test indicator

इसमें रेखा और पिनिंग द्वारा साइज के अंतर को यांत्रिक विधि से बढ़ा करके डायल पर दिखाया जाता है साधारणतः यह निम्न प्रकार से दिखाया जाता है :-
  1. Universal junior indicator
  2. universal test indicator
  3. last word indicator
  4. dial indicator 
डायल टेस्ट इंन्डीकेटर के मुख्य भाग:-
  • case or housing
  • Cover or brick
  • Needle or indicator 
  • Brazil
  •  Revolution counter
  • Dust cap 
  • reck or plunger
  • dial
  • steam
  • crystal
  • contact. Or know 
 Dail test indicator
डायल के 100 निशान = 1mm
डायल का एक निशान = 1/100 =0.01mm

Mitric प्रणाली :- डायल टेस्ट इंन्डीकेटर अल्पतमांक =
Main खाने के एक खाने का मान   =1/100 mm
बड़े Dail पर खानों की संख्या
= 0.01 mm =0.001 inch

ब्रिटिश प्रणाली:- indicator का न्यूनतम माप क्यों कि
डायल के 100 निशान =0.1"
इसलिए डायल का एक निशान =0.1÷100 = 1/10×1/100 =1/1000 =0.001"

You can visit our another blog:-
1  Vernier caliper.ruler
For ITI students
Surface plate


डायल टेस्ट इंन्डीकेटर का प्रयोग the use of dail test indicator

dial test indicator का प्रयोग प्राय: निम्नलिखित कार्यों के लिए किया जाता है:-
  1. किसी फ्लैट जॉब की समांतर भुजाओं को चेक करने के लिए किया जाता है।
  2. गोल जॉब की गोलाई चेक करने के लिए।
  3. मास प्रोडक्शन में एक ही साइज के कार्य की लंबाई चौड़ाई ऊंचाई आदि को चेक करने के लिए।
  4. लेथ मशीन पर केंद्रों की लाइनमैंट में सेट करने के लिए।
  5. machine tool के alignment को सेट करने के लिए।

डायल टेस्ट इंन्डीकेटर से रीडींग कैसे लेते हैं:-

रीडिंग लेने के लिए डायल टेस्ट इंडिकेटर को स्टैंड पर फिट किया जाता है स्टैंड साधारणतः base वाला या चुंबकीय आधार वाला हो सकता है प्लनजर  को नीचे और जॉब के ऊपर की दूरी को सेट कर लेना चाहिए जॉब को पल्नजरन  के नीचे सेट करते समय ध्यान रखना चाहिए कि सुई द्वारा डायल पर एक या दो चक्र लग जाए चेकिंग करते समय यदि सूई 0 से पीछे रह जाए तो समझना चाहिए कि जॉब - (minus)में है। और यदि सूई डायल पर जीरो से आगे बढ़े तो समझ लेना चाहिए कि जॉब प्लस में है।

डायल टेस्ट इंडिकेटर का प्रयोग करते समय काम आने वाली सुरक्षा सावधानियां

  1. dial test indicator को कटिंगकटिंग टूल के साथ नहीं रखना चाहिए।
  2. dial test indicator को हवा के साथ प्रयोग में नहीं लाना चाहिए।
  3. इसका प्रयोग रफ़ सरफेस पर नहीं करना चाहिए।
  4. कार्य करने के बाद इसे अच्छी तरह से साफ करके उचित स्थान पर रखना चाहिए।
www.bloggeryash.co.in

Thanks for reading this blog




No comments:

Post a Comment

Thanks for your advice and valuable time

Vice,first aid,